Monthly Archives: September 2015

ऐसा भी प्रेम

       एक फकीर बहुत दिनों तक बादशाह के साथ रहा बादशाह का बहुत प्रेम उस फकीर पर हो गया। प्रेम भी इतना कि बादशाह रात को भी उसे अपने कमरे में सुलाता। कोई भी काम होता, दोनों साथ-साथ ही करते। … Continue reading

Posted in कहानी | Tagged , , | Leave a comment

आरक्षण-चीटी और टिड्डे की एक कहानी

एक समय की बात है एक चींटी और एक टिड्डा था . गर्मियों के दिन थे,चींटी दिन भर मेहनत करती और अपने रहने के लिए घर को बनाती, खाने के लिए भोजन भी इकठ्ठा करती जिस से की सर्दियों में … Continue reading

Posted in कहानी | Tagged , | 1 Comment